ErrorException Message: Argument 2 passed to WP_Translation_Controller::load_file() must be of the type string, null given, called in /home/ihsuczdr/domains/dailyhindihelp.com/public_html/wp-includes/l10n.php on line 838
https://www.dailyhindihelp.com/wp-content/plugins/dmca-badge/libraries/sidecar/classes/ अनुपमा के वनराज को नहीं पसंद पत्नी और बेटों को लाइमलाइट में रखना!! - Dailyhindihelp

अनुपमा शो का हर किरदार घर-घर फेमस है। चाहे कई पॉजिटिव करेक्टर कर रहा है या फिर नेगेटिव, फैंस सभी को बेहद प्यार करते हैं। 

शो में अनुपमा के पहले पति वनराज को भी दर्शक काफी पसंद करते हैं और सोशल मीडिया पर उनकी फैन फॉलोइंग भी काफी जबरदस्त है। 

वनराज का किरदार निभाते हैं सुधांशु पांडे। सुधांशु की खास बात ये है कि वह अपनी पर्सनल लाइफ को ज्यादा लाइमलाइट में नहीं रखते हैं। 

इतना ही नहीं वह सोशल मीडिया पर भी फैमिली के साथ कम पोस्ट शेयर करते हैं और इसके पीछे एक वजह है जिसे वह हमेशा फॉलो करते हैं।  

हाल ही में सुधांशु अपने परिवार के साथ दुबई में वेकेशन एंजॉय करने गए और अब वह वहां से वापस आ गए हैं। 

सुधांशु ने कहा, परिवार के साथ छुट्टियां मनाने से अलग ही महसूस होता है। आप एक-दूसरे के साथ टाइम स्पेंड करते हैं और ये फैमिली बॉन्डिंग के लिए जरूरी है।  

सुधांशु से हाल ही में पूछा गया कि वह अपनी पर्सनल लाइफ को ज्यादा हाईलाइट क्यों नहीं करते हैं तो उन्होंने कहा, 'ये मेरी पर्सनल लाइफ है और इसे मैं पर्सनल ही रखना चाहता हूं। 

मेरी पत्नी मोना एक होममेकर हैं और मेरे 2 बेटे हैं। मेरा छोटा बेटा विवान पढ़ रहा है और बड़ा बेटा निर्वान फिल्ममेकिंग और एक्टिंग की ट्रेनिंग ले रहा है। 

वो भी काफी प्राइवेट हैं जैसे कि मैं हूं। हम एक क्लोज फैमिली है जिन्हें सब प्राइवेट रखना पसंद है।' 

एक्टर्स को अपनी पर्सनल लाइफ के लिए समय नहीं मिलता है स्पेशयली जो डेली सोप में काम करते हैं तो वह कैसे अपने परिवार के लिए समय निकालते हैं। 

इस पर सुधांशु ने कहा, 'परिवार के लिए समय निकालना मुश्किल होता है स्पेशयली जब आप डेली सोप करते हैं क्योंकि ऐसे में समय की काफी दिक्कत होती है। 

यही वजह है कि आपको शॉर्ट वेकेशन पर जाना होता है ताकी आप परिवार के साथ समय बिता पाओ। मुझे लगता है कि ऐसे ही आप बैलेंस बना सकते हो। 

मुझे जैसे ही काम से समय मिलता है तो मैं परिवार के साथ डिनर पर जाता हूं, फिल्म देखने जाते हैं। 

तो मतलब आपको थोड़ा समय निकालना होगा पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को बैलेंस करने के लिए।'